Sunday, 23 July 2017

जम्‍मू-कश्‍मीर में इन कारणों से आतंक विरोधी अभियानों को मिल रही सफलता

नई दिल्‍ली। हालिया समय में जम्‍मू-कश्‍मीर में सीमा पार से घुसपैठ और आतंकी हमले की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं। हालांकि जमीनी स्‍तर पर मजबूत खुफिया जानकारी और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस की सक्रिय भागीदारी के बलबूते महबूबा मुफ्ती सरकार आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बढ़-चढ़ कर सहयोग दे रही है। इसकी वजह से राज्‍य में आतंकवाद विरोधी अभियानों की सफलता दर में भी सुधार हो रहा है।
टाइम्‍स ऑफ इंडिया के अनुसार, सरकारी सूत्रों का कहना है कि जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस द्वारा व्‍यापक स्‍तर पर हासिल खुफिया जानकारी और संयुक्‍त अभियानों में राज्‍य पुलिस, सीआरपीएफ और सेना के बीच बेहतर समन्‍वय प्रमुख कारण हैं, जिनकी वजह से इस साल नौ जुलाई तक 95 आतंकियों को ढेर करने में सफलता हाथ लगी है। 2012-13 में मारे गए आतंकियों की तुलना में यह संख्‍या कहीं ज्‍यादा है। जबकि अभी पूरा साल बीता भी नहीं है।
गौरतलब है कि जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकवाद संबंधी हिंसक घटनाएं काफी बढ़ गई हैं। इस साल नौ जुलाई तक इस तरह की 172 घटनाएं दर्ज की गई हैं। मगर सुरक्षा अधिकारियों का कहना है कि ऐसा इसलिए है क्‍योंकि नियमित रूप से आतंकियों के साथ मुठभेड़ हो रहे हैं। 

Source:-Jagran
View more about our services:-Private cloud hosting

No comments:

Post a Comment